छोटी सी भूल भाग - १७


Discussion in 'Hindi Sex Stories' started by 007, May 3, 2016.

  1. 007

    007 Administrator Staff Member

    //gsm-signalka.ru छोटी सी भूल भाग - १७
    वो बोला, चल चूस इसे। मैने अपनी गर्दन ना के इशारे में हिला दी। वो बोला, अरे चुस ना। मैने भी तो तेरी चूत चूसी है। तू तो कहती थी जो मैं चाहूंगा; तू करेगी। कहाँ गया तेरा कल का वादा? उसने मुझे जोर दे कर उठाया और मुझे अपने आगे जमीन पर बिठा दिया। मैने आँख खोली तो पाया कि उसका लिंग बिल्कुल मेरे मुँह के सामने झूल रहा था। बहुत बड़ा लग रहा था वो। उसके चारों तरफ बहुत घने काले बाल थे। पूरा एक जंगल उगा हुआ था वहाँ। मैने ऐसा भयानक लिंग देख कर अपनी आंखे झट से बंद कर ली। वो मेरे होठों पर अपना लिंग रगड़ने लगा, और बोला, मुँह खोल। मैने कोई हरकत नहीं की। वो बोला, खोल ना, थोड़ा चूस ले, तुझे जल्दी जाना है ना। मैने झिझकते हुए मुँह खोला ही था कि, उसने कोई ३ इंच मेरे मुँह में घुसा दिया और बोला, शाबास ये हुई ना बात! मेरा मुँह फटा जा रहा था और वो और ज्याद अन्दर डालने की कोशिश कर रहा था। मुझे उल्टी आने को हो गई और मैं वहाँ से जोर लगा कर हट गई। मैं थोड़ा ठीक महसूस करने लगी ही थी कि उसने फिर से मेरे मुँह में अपना लिंग सटा सिया। वो बोला, चल अब जल्दी-जल्दी चूस, वक्त कम है। मैने धीरे-धीरे उसका चूसना शुरु कर दिया। मैं बहुत ग्लानि की भावना से भरी हुई थी और सोच रही थी कि ये मुझे क्या करना पड़ रहा है। आज तक मैने संजय के साथ भी इस तरह से नहीं किया था। मैं प्रार्थना कर रही थी कि ये सब जल्दी से खत्म हो जाये। थोड़ी देर बाद उसने मुझे घूमने को कहा। मुझे ये सुन कर सुकून मिला उसक चूसते चूसते मेरा मुँह दुखने लगा था। वो बोला, सलवार निकाल दे और घूम जा। मैने कहा कपड़े रहने दो ऐसे ही कर लो। वो बोला, निकाल ना जल्दी, मुझे गुस्सा मत दिला। मैने, धीरे धीरे कपड़े उतार दिये और उसके समने बिल्कुल नंगी हो गई। वो मेरे उभारों को देखते हुए बोला, जरा रूक और मेरे उभारों को चूमने लगा। मैं चुपचाप उसका तमाशा देखती रही। वो बारी-बारी से मेरे निप्पल्स को मुँह में लेकर चूस रहा था, उसकी दाढ़ी मेरे उभारों पर काँटों की तरह चुभ रही थी। थोड़ी देर बाद वो बोला, चल अब घूम जा और झुक जा। मैने पूछा आप क्या करोगे? वो बोला, जो बिल्लू ने किया थ, तेरी गांड मारूंगा। ये सुन कर में ग्लानि से मर सी गई। उसने मुझे झुकाया और मेरे नितम्बों पर अपना लिंग रगड़ने लगा। उसने मुझे फिर अपनी और घुमाया और बोला, चल इसे मुँह में लेकर चिकना कर, डालने में आसानी होगी मैं सब जल्दी खत्म करना चाहति थी, इसलिए मैं नीचे झुक कर उसके लिंग को मुँह में लेकर चूसने लगी। कोई पाँच मिनिट बाद वो बोला, बस ठीक है, वापस घूम जा। जैसे ही मैं उसके आगे झुकी, उसने मेरे उभारों को दोनों हाथों से थाम लिया और उन्हें मसलने लगा। थोड़ी देर बाद मुझे उसका लिंग अपनी योनि द्वार पर मसूस हुआ, मैं डर गई कि कहीं ये यहाँ ना डाल दे। पर वो जल्दी ही वहाँ से हट गया। अचानक उसने मेरे कंधों को जोर से थाम लिया और मैं चीख उठी.. आआह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह आआआआअय्य्य्य्य्य्य्य्य्य्यिइइइइइइइइइइइइइइइइइइइइइइइइइइइइइइइ. प्लीज निकालो इसे!! उसने एक ही झटके में अपना आधा लिंग मेरी योनि में आधा घुसा दिया था। मैं चिल्ला कर बोली, तुमने गलत जगह डाल दिया है, निकालो वहाँ से। वो बोला, बिल्कुल सही जगह डाला है, बहुत चिकनी चूत है तेरी; लगते ही फिसल गया। थोड़ा रूक, तुझे मजा आने लगेगा। मैं दर्द से मरी जा रही थी। शुक्र है कि वो जबरदस्ती अन्दर नहीं धकेल रहा था। बिल्लू की तरह वो भी धीरे-धीरे अन्दर सरका रहा था। उसक एक एक इंच मेरे अन्दर जाता हुआ महसूस हो रहा था। जब उसने पूरा अन्दर डाल दिया तो बोला, ले चला गया पूरा अन्दर। अब मुझे उसके वहाँ के बाल अपने नितम्बों पर कांटो की तरह चुबते हुए महसूस हो रहे थे। मैं उसके लिंग का कोई अहसास महसूस नहीं करना चाहती थी। पर ये सच था कि उसका लिंग मेरी योनि में बहुत गहराई तक पहुँच गया था, जहाँ तक कि आज तक संजय भी नहीं पहुँच पाये थे। धीरे-धीरे मेरा दर्द कम हो गया। वो बोला, कैसा लग रहा है? मैने कोई जवाब नहीं दिया। वो बोला, बिल्लू ने अपनी डायरी में लिखा था कि तूने खुद उसे गांड मारने को कहा था, क्या ये सच है? मैने कहा, जी नहीं ऐसा कुछ नहीं है। वो बोला, चल कोई बात नहीं, तू मुझे बता, मैं तेरी मार लूं क्या? मैं हैरान थी कि ये सब कुछ बिल्लू की तरह कर रहा है, बिल्कुल उसी तरह कमीना है। मैने कुछ नहीं कहा। मुझे महसूस हुआ कि, वो अपना लिंग बाहर की ओर खींच रहा है। उसका लिंग बाहर की और निकला ही था कि उसने पूरा वापस घुसा दिया और मैं पूरी की पूरी हिल गई। वो बोला, तू कहे या ना कहे मैं तो तेरी मार रहा हूँ, तू तो यूं ही शर्माती रहेगी। ये कहते हुए उसने मेरी योनि में तेज-तेज धक्के मारने शुरू कर दिये। ना चाहते हुए भी मैं हर धक्के के साथ हवा में झूल रही थी। मैं कब सातवें आसमान पर पहुँच गई पता ही नहीं चला। मेरा मन भले ही ग्लानि से भरा हुआ था; पर मैं ये नहीं झुठला सकती थी कि मेरी योनि में मुझे बहुत मजा आ रहा है। उसके लिंग की रगड़ मेरी योनि में बहुत गहराई तक महसूस हो रही थी। अचानक उसने मुझे ऐसी बात कही कि जिसे सुन कर मैं चौंक गई।वो एक जोरदार धक्का अन्दर की ओर लगा कर रुक गया और बोला, तूने जो कुछ मेरे साथ किय था, उसकी ये बहुत छोटी सी सजा है। मैने हैरानी भरे शब्दों में पूछा, क्या मतलब? वो बोला, तूने मुझे बिल्कुल नहीं पहचाना? मैने फिर हैरानी में जवाब दिया, नहीं। वो बोला, याद कर कबी मैं ऐसे ही तेरे पीछे खड़ा था, फर्क इतना था कि मेरा लंड मेरी पेन्ट में था, तेरी चूत में नहीं। तू पानी पी रही थी, मैं तेरे पीछे लाईन में लगा था। मैं हड़बड़ाते हुए बोली. क.क..क्याऽऽऽ ? मुझे यकीन ही नहीं हो रहा था कि मैं क्या सुन रही हुँ। मैने जोर लगा कर वहाँ से हटने की कोशिश की पर उसने मेरे कंधों को मजबूती से पकड़ रखा था। वो बोला, कुछ याद आया मैडम? और फिर से तेज-तेज धक्के मारने लगा और मेरी साँस फूल गई। मैने पूछा, क..क..क्या तुम अशोक होऽऽ? वो रुक कर बोला, हाँ बिल्कुल ठीक पहचाना, आप की याददाश्त बहुत अच्छी है। मेरी आंखों के आगे अंधेरा छा गया। मुझे यकीन ही नहीं हो रहा था के ये सब सच है। मुझे सब एक बुरा सपना सा लग रहा था। पर काश वो सपना होता। वो सपना नहीं; हकीकत थी मेरी योनि में मेरे कॉलेज के दिनों का चपरासी, अशोक लिंग डाले खड़ा था। मैं सोच भी नहीं पा रही थी कि क्या करूं?
Loading...

Share This Page


Online porn video at mobile phone


ఎక్సైట్మెంట్ xvideo.comమొగుడు పడుకున్నాకமுடங்கிய கணவனுடன் சுவாதி 15 site:brand-krujki.ruमित्राच्या आईची सेक्स कथाகை அடிக்க எத்த கதை ஆ ஆമുഴുത്തു കൊഴുത്ത കുണ്ണയും അണ്ടിയുംत्याचा लंड घेतला मीजवखोर मारवाडी चालु आंटी सेक्स कथाShakkela vaa azhake vaa move xxవిధవ తల్లి 10 xossipyஎன்ன நடக்குது இந்த வீட்டில் காமகதைவாய்ல ஓக்கXxx videos bhai ne tange uthayiதோழி என்ன ஓக்க விட்டாள்xx.hot.pottv.hot.khine.hinde anniyudan oru night kathaiankitparul swingersRAji. ആന്റി new. Xxxবুকের দুধ hot xossip storiesen manaiviyai okka vitta kathaiDESI CAHCHAI KI BOOR KI CHUDAI NEWஎன்.சுகம்.என்.மாமானர்दिपशिखा कि चुत कहानीஅவலுக்கு நல்ல கூதிदिपशिखा भाई Storyபாவடை சட்டை காம கதைमेडिकल।में।पेल दियाঅসমিযা লতাক চুদা গল্পவயல்களில் ஓத்த கதைகள்Panipilla sallu chupinchindi sex mmsहिन्दी सेक्स स्टोरी हुक्का घुसा चुत मेंഅമ്മായിഅമ്മ പൂറ്റിൽஆஆകൂത്തിച്ചിtamil chinna ponnu rape kathaikalபெரிய மெலெಟವೆಲ್ ತುಣ್ಣೆరష్మీ పూకు xxx కథKamakkalanjiam videossex story chhoti bahen ko nehlaysAsaiva kamakathaikal tamilদুপুর বেলা বৌদিকে জোর করে চুদলোஅபிநயா – என் நண்பனின் அழகு மனைவி 9Xxx. Ganda. My. Hi. Lavada. Shuta. VidioTamil actor laila ool kathaiNanum en nanbanum sex talil storiesbiwi ki pregnancy per chodaகண் இல்லாத மனைவி காமக்கதைবাংলা লেসবিয়ান গল্পവായിൽ തുണി കുണ്ടിയിൽ കയറ്റിഅനിയത്തിയും ചേച്ചിയുംஅத்தை குளிக்கும் காம கதைகள்kudikara aunty sex story tamilबेटा ने चेदा मममी कोஎன் புண்டையை பாருடாআমি Sex Ar কিছুই জানি না Bangla Chotiaval kuthi nakka sex story in tamilஅக்காவின் காம்பsunniyai suppi sugam thantha sumaBundail yeena irkuமாமனார் cheating மருமகள் காமக்கதைகள்Tamil Kamakathaikal and Manvi Jane kiଭାଉଜ ଡଟ କମசிவராஜ் சுன்னி५० साल की मकान मालकिन आंटी की चूत चुदाई लुंड का पानीmarathi shejarin lahan mulgi sex kathaমেকে কলেজে পরাতে বাবার জ থেকে xxx comമുലയുടെ മുഴുപ്പ് കണ്ടുপরপুরুষ চুদার হট গল্পमुता मुता कर चोदा जेठ जी ने मुझTamil superanni sex storiesஅம்மா பால் வேனும் காமக்கதைsivarai swathi otha kathai 9 tamilমাল আৰু যোনিमराठी ब्रा परकर सेक्स कथाಅಮ್ಮ ಸೆಕ್ಸ್ ಕಥೆಗಳುஅம்மா ஓழ் வாங்கினதை பார்த்தேன்dostki bahen ko shil toda xxxAssamese jauno kahniPucchit ghetala land bahinineமாலதி ஆண்டி பால் கதைXossip ஓக்க வரியாஅன்பளிப்பு: கணவரின் உத்தியோக உயர்வுக்குभरभक्कम आंटीची सेक्स कथाஅண் xxxzxnanban manavi idupu sex story Tamilmakan malkin aunty ki umar 50 sal ki unki chudai kiஅம்மா குண்டி வழி விட்டதுगोवा में गैंग बैंग चुदाई सेकस कहानीபள்ளி கூடம் புண்டயை